Tuesday, 19th September 2017

ध्यानचंद और हरिसिंह गौर को भारत रत्न की माँग को लेकर धरना

Mon, Dec 19, 2016 9:46 PM

नई दिल्ली में हॉकी के जादूगर मेजर ध्यानचंद को भारत रत्न से सम्मानित करने की माँग को लेकर बुंदेलखंड से आए लोगों ने धरना दिया। जंतर-मंतर पर हुए इस धरने में महान शिक्षाविद डॉ हरिसिंह गौर को भी भारत रत्न देने की माँग की गई।

बुंदेलखंड सर्वदलीय नागरिक संघर्ष मोर्चा के बैनर तले हजारों लोग जंतरमंतर पर इकट्ठे हुए और बुंदेलखंड के विकास पर विशेष ध्यान देने की मांग भी सरकार से की।

मोर्चे के संरक्षक और समाजवादी नेता रघु ठाकुर ने कहा कि बुंदेलखंड की दो महान हस्तियों- मेजर ध्यानचंद और डॉ हरिसिंह गौर की उपेक्षा अब सहन नहीं की जा सकती।

बुंदेलखंड के पिछड़ेपन और बिजली की किल्लत को दूर करने की भी माँग रघु ठाकुर ने उठाई और प्रधानमंत्री से आग्रह किया कि वो बुंदेलखंड में सौर ऊर्जा केंद्र स्थापित कराएँ।

राज्यसभा सदस्य और एनसीपी नेता डी पी त्रिपाठी, पूर्व केंद्रीय मंत्री प्रदीप जैन आदित्य, समाजवादी नेता राजनाथ शर्मा, कांग्रेस नेता राजा पटेरिया, पत्रकार राम बहादुर राय, और महेंद्र नारायण सिंह यादव, बुंदेलखंड विकास परिषद के अवधेश चौबे, सामाजिक कार्यकर्ता हरदयाल कुशवाहा समेत कई जाने-माने लोग इस धरने में शामिल हुए। कार्यक्रम की अध्यक्षता आचरण की संपादक निधि जैन ने की।

पूर्व केंद्रीय मंत्री प्रदीप जैन आदित्य ने बुंदेलखंड में सर्वे की गई रेल लाइनों का काम जल्द शुरू करने की मांग उठाई। भिंड से आए श्यामसुंदर यादव ने भिंड को महोबा से जोड़ने के लिए रेल लाइन की मांग की।

वरिष्ठ पत्रकार और लेखक महेंद्र नारायण सिंह यादव ने कहा कि सरकारों की उपेक्षा के कारण बुंदेलखंड अब पिछड़ेपन का पर्याय बनता जा रहा है, लेकिन अब इलाके के लोग लड़ाई लड़ने के लिए आगे आ रहे हैं, और रघु ठाकुर की अगुवाई में बुंदेलखंड ही नहीं, दिल्ली में भी बार-बार धरना प्रदर्शन कर रहे हैं, जिससे लगता है कि अब बुंदेलखंड की अनदेखी करने वाली सरकारों को काफी नुकसान उठाना पड़ सकता है।

Comments 0

Comment Now


Videos Gallery

Poll of the day

शिवराज सरकार किसानों को बर्बाद क्यों कर रही है?

29 %
10 %
60 %
Total Hits : 75789