Friday, 24th November 2017

बैंक की लाइन में मरे लोग लुटेरे थे- केंद्रीय मंत्री कृष्णाराज

Tue, Dec 13, 2016 10:56 PM

नोटबंदी के बाद बैंकों में लगी लंबी-लंबी लाइनों से परेशान लोगों के जले पर नमक छिड़कते हुए केंद्रीय मंत्री कृष्णा राज ने कहा है कि जो लोग नोटबंदी में मरे हैं,वो लुटेरे थे। उत्तर प्रदेश के बाँदा में परिवर्तन यात्रा में केंद्रीय महिला और बाल कल्याण राज्य मंत्री कृष्णा राज के इस बयान पर हंगामा मच गया है। भाजपा के पूर्व प्रदेशाध्यक्ष लक्ष्मीकांत वाजपेयी ने इसके बाद मंत्री के बयान को गंभीरता से न लेने को कहा है।

बाँदा में परिवर्तन यात्रा में मंत्री कृष्णा राज के साथ पहुँचे पूर्व प्रधानमंत्री के प्रपौत्र और भाजपा के राष्ट्रीय प्रवक्ता सिद्धार्थ नाथ ने भी बेलगाम भाषण देते हुए ममता बनर्जी पर नकली नोट के कारोबार में शामिल होने का भी आरोप लगाया। उन्होंने तृणमूल कांग्रेस के कार्यकर्ताओं पर बम विस्फोट की घटनाओं में शामिल होने का भी आरोप लगाया।

वैसे तो भाजपा नेताओं ने समाजवादी पार्टी और बहुजन समाज पार्टी पर कड़े हमले करते हुए कई तरह के आरोप लगाए लेकिन सबसे ज्यादा विवादित बयान कृष्णा राज का वही रहा जिसमें उन्होंने नोटबंदी के बाद बैंकों की लाइन में लगकर मरने वाले लोगों को लुटेरे बता दिया।

आउटलुक ने भी लिखा है कि बाँदा में केंद्रीय मंत्री कृष्णा राज ने कहा कि बैंक की लाइन में उन्हीं लोगों की मौत हो रही है जो देश को लूट रहे थे।

विभिन्न स्रोतों से आई खबरों के अनुसार अब तक नोटबंदी के कारण करीब सौ लोगों की मौत हो चुकी है। इनमें कई लोगों की मौत लाइन में लगने के दौरान ही हुई। कुछ ने रुपयों की कमी के कारण आत्महत्या की और कई लोग इलाज न करा पाने के कारण अपनी जान से हाथ धो बैठे।

नोटबंदी के फायदे गिनाते हुए केंद्रीय मंत्री यहाँ तक कह गईं कि नोटबंदी के बाद से इतने रुपए पकड़े गए हैं कि देशभर में विकास की गंगा बह निकलेगी।

कृष्णा राजा के इस आपत्तिजनक बयान पर समाजवादी पार्टी की तीखी प्रतिक्रिया आई है। पार्टी ने कहा है कि इस तरह से मुसीबतजदा लोगों का भाजपा सरकार ने अपमान किया है और उत्तर प्रदेश सरकार नोटबंदी के कारण मरने वाले हर व्यक्ति को दो-दो लाख की सहायता देने का ऐलान मुख्यमंत्री पहले ही ऐलान कर चुके हैं। पार्टी ने कृष्णा राज को बर्खास्त करने की मांग भी की है और कहा है कि वो मंत्री के खिलाफ एफआईआर भी दर्ज कराएँगे।

कांग्रेस ने भी किसानों और गरीबों को लुटेरा बताने के बीजेपी सरकार की मंत्री कृष्णाराज के बयान को विडंबना बताया है।

भाजपा नेता भी कृष्णा राज के इस बयान के बाद बगलें झाँकते दिखे। पूर्व प्रदेशाध्यक्ष लक्ष्मीकांत वाजपेयी ने ज़रूर कहा कि इस बयान का कोई औचित्य नहीं है और जो कोई ऐसे बयान दे रहा है उसे गंभीरता से नहीं लेना चाहिए।

Comments 0

Comment Now


Videos Gallery

Poll of the day

शिवराज सरकार किसानों को बर्बाद क्यों कर रही है?

34 %
10 %
56 %
Total Hits : 77699