Wednesday, 22nd November 2017

महाराष्ट्र में अपराध करने में महिलाएं अव्वल

Wed, Oct 5, 2016 7:05 PM

नईदिल्ली :  अब वो समय गया जब महिलाएं केवल घर की चार दिवारी में कैद रहती थीं । आज महिलाएं पुरुषों से कन्धा मिलाकर हर क्षेत्र में बराबरी कर रही हैं तो क्राइम में कैसे पीछे रह सकती हैं। जी हाँ आप बिलकुल सही समझ रहे हैं, हमारा देश विविधताओं से भरा हुआ है। जब पुरुष अपराध कर सकता है तो महिलाएं क्यों नहीं। एनसीआरबी  आकड़ों के मुताबिक महाराष्ट्र में महिलाये अपराध के  मामले में अव्वल है उसके बाद उत्तरप्रदेश दुसरे नम्बर पर है । 
महाराष्ट्र -2014 में गिरफ्तार महिलाओं की संख्या: 30,568
महाराष्ट्र राज्य, अपनी तेजी से बढ़ती अर्थव्यवस्था और रंगीन जीवन शैली के लिए जाना जाता है। इसके साथ ही 2014 में महिला अपराधियों की संख्या माहारष्ट्र में सबसे ज्यादा थी।
उत्तर प्रदेश-महिलाओं को गिरफ्तार किया गया : 17,437
उत्तर प्रदेश एक ऐसा राज्य है जो अपने उपद्रवी पुरुषों के लिए कुख्यात है, लेकिन यहाँ की महिलाएं भी किसी से कम नहीं है। उत्तर प्रदेश में ख़राब कानून और व्यवस्था, और हिंसक अपराधों की कोई कमी नहीं है। यह कोई आश्चर्य की बात नहीं है कि यहाँ महिलाओं को भी हिंसक कामों का सहारा है।
राजस्थान-गिरफ्तार महिलाओं की संख्या: 16, 187
हैरानी की बात है राजस्थान जैसा राज्य जो काफ़ी शांतिपूर्ण राज्य है, यहाँ की महिलाएं भी अपराध करने में किसी से कम नहीं हैं। महिलाओं के अपराध की तीसरी सबसे बड़ी संख्या है।
गुजरात-गिरफ्तार महिलाओं की संख्या): 14,152
गुजरात राज्य को अतीत में ज्यादा हिंसा का सामना करना पड़ा है, प्राकृतिक आपदाओं, दंगों ने वह के लोगों का जीवन अस्त– व्यस्त कर दिया था। इसके बावजूद यहाँ की महिलएं अपराध की सूचि में चौथे स्थान पर हैं।
पश्चिमी बंगाल-गिरफ्तार महिलाओं की संख्या  12,181
बंगाल एक ऐसा राज्य है जहाँ पर भारत में सबसे पहले पक्षिमी सभ्यता ने अपने पाँव पसारे थे। यहाँ की महिलाएं भी आपराधिक घटनाओं में आगे हैं, यह अचरज की बात है।

Comments 0

Comment Now


Videos Gallery

Poll of the day

शिवराज सरकार किसानों को बर्बाद क्यों कर रही है?

34 %
9 %
57 %
Total Hits : 77568