Friday, 22nd September 2017

अखिल भारतीय किरात खंबु राई संगठन ने चलाया स्वच्छता अभियान

Tue, Aug 16, 2016 3:09 PM

नई दिल्ली, 15 अगस्त, 2016 : अखिल भारतीय खंबु राई संगठन नई दिल्ली में सफदरजंग अस्पताल के बाहर स्वच्छता अभियान का आयोजन किया। इस अभियान को क्लीन योर सिटी सेव द नेचरर नाम दिया गया । स्वच्छ भारत अभियान के तहत यह कार्यक्रम 15 अगस्त 2016 को दोपहर 2 बजे से शाम 6 बजे तक चलाया गया।

संगठन की उपाध्यक्ष वंदना राई की पहल पर हुए इस स्वच्छता कार्यक्रम में संगठन के दिल्ली-एनसीआर इकाई के अध्यक्ष राज कुमार राई, महासचिव बिनय खंबु राई और देवमन राई सहित काफी सारे सदस्य शामिल हुए।

किरात खंबु राई विश्व की प्राचीनतम  जनजातियों में से एक है  और भारत-नेपाली या गोरखा समुदाय का हिस्सा है। प्राचीन काल से ही ये समुदाय भारत का निवासी रहा है। धर्म के लिहाज से ये हिंदू, मुस्लिम या ईसाई नहीं है और ये प्रकृति पूजक होते हैं। पृथ्वी, पेड़ों, नदियों, पशुओं और पत्थरों को ये पूजते हैं और उनके संरक्षण के प्रति बहुत संवेदनशील होते हैं। पूर्वी हिमालय इनका उद्गम स्थान है और पर्यावरण संरक्षण में इनका बहुत योगदान है।
संगठन की केंद्रीय समिति की उपाध्यक्ष वंदना राई ने सफदरजंग अस्पताल के बाहर चलाए स्वच्छता कार्यक्रम के बारे में कहा कि ये कार्यक्रम उनके संगठन के सामाजिक कार्यों का अंग है। इस तरह के कार्यक्रम दिल्ली में कई जगहों पर पहले भी चलाए जा चुके हैं। संगठन हर रविवार को सफदरजंग अस्पताल के बाहर स्वच्छता कार्यक्रम चलाया करेगा।

वंदना राई ने कहा कि इस सामाजिक कार्य के जरिए वे देश को यह भी संदेश देना चाहती हैं कि आजादी के 70 सालों बाद भी भारत-नेपाली समुदाय स्वतंत्र नहीं है और उन पर हर जगह बंदिशें लगी हैं। उनके साथ सामाजिक भेदभाव होता है औ और देश में ही उन्हें विदेशी माना जाता है। इस समुदाय के लोगों पर हमले, बदसलूकी, नस्लीय टिप्पणियाँ भी की जाती है। अपनी बेदाग ईमानदारी के लिए मशहूर गोरखाओं को चौकीदार कहा जाता है। सुश्री राई ने कहा कि हमारे भाइयों को स्थानीय लोग और मकान मालिक पीटते हैं, लड़कियों को चिंकी कहा जाता है, कोठों पर बेचकर उनसे वेश्यावृत्ति कराई जाती है, घरों में बंधुआ मजदूरी कराई जाती है।

उन्होंने बताया कि पूर्वोत्तर के लोगों के लिए अलग से हेल्पलाइन है, लेकिन दार्जिलिंग से आने वाले भारतीय-नेपाली समुदाय के लिए ऐसी कोई सुविधा नहीं है, जबकि इनके साथ भी वैसा ही व्यवहार होता है। पश्चिम बंगाल सरकार भी हमारे साथ भेदभाव करती है।

 
 
 
 

 

Comments 2

Comment Now


Previous Comments

,,for this honourful National issue miss Banana and her team deserves the highly appreciation.

Suresh Rai

,,for this honourful National issue miss Banana and her team deserves the highly appreciation.

Suresh Rai

Videos Gallery

Poll of the day

शिवराज सरकार किसानों को बर्बाद क्यों कर रही है?

29 %
10 %
60 %
Total Hits : 75828