Saturday, 18th November 2017

महाराष्ट्र : पिछले साल में 3228 किसानों ने की आत्महत्या

Mon, Aug 15, 2016 2:29 PM

नई दिल्ली 15 अगस्त, 2016 : महाराष्ट्र में पिछले साल 3228 किसानों ने आत्महत्या की है। यह संख्या 2001 के बाद से सबसे ज्यादा है। कृषि मंत्री राधामोहन सिंह खुद संसद में अपने जवाब में यह बात बता चुके हैं। सरकारी आंकड़ों के  अनुसार पिछले साल सबसे ज्यादा अमरावती में 1179 किसानों ने आत्महत्या की। इसी तरह औरंगाबाद में 1130, नासिक में 459, नागपुर में 362, पुणे में 96 और कोंकण क्षेत्र में दो किसानों ने तंगहाली के कारण आत्महत्याएँ कर डालीं। सरकार के मुताबिक़ पिछले साल आत्महत्या करने वाले 3228 किसानों में से 1841 के आश्रित मुआवजा पाने के हक़दार हैं जबकि 903 मामलों में ऐसा नहीं है। 484 मामलों की जांच लंबित है। आत्महत्या करने वाले 1818 किसानों में से प्रत्येक के आश्रित को एक लाख रुपए की मुआवजा राशि दी जा चुकी है। 

खराब मॉनसून के कारण महाराष्ट्र में सूखे की स्थिति रही है। केंद्र सरकार ने सूखे से निपटने के लिए राष्ट्रीय आपदा राहत कोष से 3049.36 करोड़ रुपए मंजूर किए थे। इस बीच, महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने ट्वीट किया कि उनकी सरकार किसानों को सूखे से की स्थिति निपटने के लिए हरसंभव कदम उठा रही है।

Comments 0

Comment Now


Videos Gallery

Poll of the day

शिवराज सरकार किसानों को बर्बाद क्यों कर रही है?

31 %
9 %
59 %
Total Hits : 77350