Thursday, 21st September 2017

सांसद पुत्र के ठेके पर हाईकोर्ट में बन रहा भवन गिरा, एक की मौत

Wed, Feb 17, 2016 5:15 PM

बिलासपुर। छत्तीसगढ़ हाईकोर्ट परिसर में निर्माणाधीन ज्युडिशियल ट्रेनिंग इंस्टीट्यूट की निमार्णाधीन बिल्डिंग की छत ढलाई के दौरान भरभरा कर गिर गई।। इस हादसे में एक सिविल इंजीनियर की मौत हो गई। वहीं 19 मजदूर घायल हो गए। इनमें गंभीर रूप से तीन घायलों को इलाज के लिए अपोलो अस्पताल में भर्ती कराया गया है। अन्य का सिम्स में उपचार चल रहा है। बताया गया है कि ये ठेका कंपनी भाजपा नेता व कोरबा सांसद डॉ. बंशीलाल महतो के बेटे विकास महतो की है।
हाईकोर्ट परिसर में 14 करोड़ रुपए की लागत से ज्युडिशियल ट्रेनिंग इंस्टीट्यूट के भवन का निर्माण चल रहा है। यहां मंगलवार को बिल्डिंग की छत की ढलाई चल रही थी। इस कार्य में तकरीबन 50 मजदूर लगे हुए थे। घटना शाम करीब 4 बजे की है। छत की आधी ढलाई हुई थी। तभी अचानक छत का एक हिस्सा भरभराकर गिरने लगा। छत गिरते ही वहां अफरा-तफरी मच गया।
हादसे के समय छत के नीचे अकलतरा निवासी सिविल इंजीनियर तोमन सिंह पिता लक्ष्मण सिंह (30), बालाघाट निवासी सुपरवाइजर युगल कटरे सहित करीब आधा दर्जन मजदूर नीचे मानिटरिंग कर रहे थे। वहीं छत की ढलाई कर रहे दर्जन भर से अधिक मजदूर ऊपर थे। छत गिरते ही मजदूर इधर-उधर भागने लगे। वहीं करीब 20 मजदूर मलबे में फंस गए। इनमें से ज्यादातर मजदूरों को आनन-फानन में निकाल लिया गया। वहीं सिविल इंजीनियर तोमन सिंह व युगल कटरे मलबे में दब गए।
हादसे की सूचना मिलते ही आसपास के मजदूरों के साथ ही वकीलों व न्यायिक अधिकारियों की भीड़ मौके पर पहुंच गई। उन्होंने तत्काल घटना की सूचना पुलिस व प्रशासन के आला अधिकारियों को दी। खबर मिलते ही जिला प्रशासन के आला अधिकारी, एसपी अभिषेक पाठक मौके पर पहुंच गए थे। तब तक संजीवनी 108 सहित अन्य एंबुलेंस, फायर बिग्रेड व क्रेन भी बुला लिया गया था।
घायल मजदूरों को आनन-फानन में इलाज के लिए सिम्स भेजा गया। सिम्स में 13 मजदूरों को इलाज के लिए भर्ती कराया गया है। कुछ को प्राथमिक उपचार के बाद छुट्टी दे दी गई है। वहीं मलबे में दबे सिविल इंजीनियर व सुपरवाइजर को निकालने के लिए ऑपरेशन शुरू किया गया। गैस कटर व क्रेन की मदद से करीब आधा घंटा बाद सुपरवाइजर युगल कटरे को बाहर निकाला गया।
उनकी हालत गंभीर थी। उसे इलाज के लिए अपोलो अस्पताल ले जाया गया। फिर सिविल इंजीनियर को बाहर निकालने के लिए कड़ी मशक्कत करनी पड़ी। करीब 1 घंटे बाद उसे भी बाहर निकाला गया। अपोलो अस्पताल ले जाने के बाद उन्हें मृत घोषित कर दिया गया।
ये हुए घायल
निर्माणाधीन बिल्डिंग गिरने से मस्तूरी के ग्राम बेटरी निवासी भागवत कश्यप पिता कार्तिक कश्यप(40), धरमपुरा निवासी गोलू कश्यप पिता अभय कश्यप(23), मस्तूरी निवासी श्याम पटेल पिता सुखलाल पटेल(17), संजय साहू पिता भूखन साहू(30) बिरकोना, अशोकनगर निवासी रानी केंवट पिता दीपक केंवट(18), बिरकोना निवासी सतीश पिता कलेश्वर(23) के साथ बिरकोना की ही रहने वाली दुर्गा, जरहागांव निवासी प्रकाश, मल्हार निवासी मलेश्वर, राम बाई समेत दो दर्जन से अधिक घायलों को सिम्स के केजुअल्टी वार्ड में भर्ती कराया गया है, जहां उनका उपचार चल रहा है। घायलों के पहुंचने के दौरान सिम्स में डॉक्टरों की टीम ने तत्काल उपचार शुरू किया।
सांसद के बेटे ने लिया है भवन बनाने का ठेका
पीडब्ल्यूडी के अफसरों ने बताया कि 8 करोड़ की लागत से बनने वाले भवन की लागत अब करीब 14 करोड़ हो गई है। निर्माण कार्य का ठेका डीवी प्रोजेक्ट को दिया गया है। ये ठेका कंपनी भाजपा नेता व कोरबा सांसद डॉ. बंशीलाल महतो के बेटे विकास महतो की है। बताया जा रहा है कि विकास प्रदेश का प्रमुख ठेकेदार है और उसे अरबों स्र्पए का काम मिला है।

 

Comments 0

Comment Now


Videos Gallery

Poll of the day

शिवराज सरकार किसानों को बर्बाद क्यों कर रही है?

29 %
10 %
60 %
Total Hits : 75821