Sunday, 19th November 2017

भगोड़े अंडरवर्ल्ड डॉन की प्रापर्टी होगी नीलाम

Wed, Dec 2, 2015 4:34 PM

मुंबई: मुंबई में जब्त की गईं 7  संपत्तियां नीलाम की जानी हैं। इनमें से एक प्रॉपर्टी अंडरवर्ल्ड डॉन दाऊद इब्राहिम की भी है। यह संपत्ति दाऊद के गढ़ नागपाड़ा में टेमकर स्ट्रीट के बिल्कुल पास में स्थित एक होटल है। पहले उसे 'रौनक अफ़रोज़' के नाम से जाना जाता था, लेकिन बाद में उसमें 'दिल्ली जायका होटल' खुल गया। जब्त होने के बाद भी होटल चलने की सूचना मिलने के बाद वर्ष 2013 में उसे फिर से सील किया गया था।
होटल में मीटिंग करता था दाऊद
बताया जाता है कि हिंदुस्तान से भागने के पहले तक दाऊद इब्राहिम होटल रौनक अफरोज में ही अपनी मीटिंग किया करता था। पास की ही टेमकर स्ट्रीट पर दाऊद इब्राहिम का घर था। उसका भाई इकबाल कासकर अब भी पास की ही बिल्डिंग डामर वाला में रहता है। वैसे तो इस होटल को 1993 के धमाकों में दाऊद का नाम आने के बाद ही सील कर दिया गया था,  लेकिन दाऊद के लोगों ने ताला तोड़कर इसे किराए पर दे रखा था। जुलाई 2013 में होटल के फिर से सील होने के पहले तक यहां दिल्ली जायका नामका होटल चलता था, जिसका बोर्ड आज भी लगा हुआ है।
रिजर्व कीमत एक करोड़ 18 लाख
इस होटल की रिजर्व कीमत एक करोड़ 18 लाख रखी गई है और नीलामी में हिस्सा लेने वाले को 30 लाख रुपये डिपॉजिट भी जमा करना होगा। दाऊद इब्राहिम को भारत से भागे हुए दो दशक से भी ज्यादा समय हो गया है लेकिन इलाके में उसकी दहशत आज भी कायम है। आज भी लोग दाऊद या उसकी प्रापर्टी के बारे में बात करने से डरते हैं। ऐसे में सवाल है कि उसकी संपत्ति खरीदेगा कौन?
भारत के मोस्ट वांटेड आरोपी दाऊद इब्राहिम की मुंबई में तकरीबन 12 ऐसी प्रापर्टी हैं जो 1993 के धमाकों मे उसका नाम आने के बाद जब्त की गईं। उनमें से ज्यादातर आज भी वैसी ही पड़ी हैं। अब 9 दिसंबर को दाऊद के उस होटल के साथ कुल 7 प्रापर्टी नीलाम होनी हैं, जिनमें 5 खेती की जमीन है और एक हुंडई कार भी है।
जिन्होंने संपत्ति खरीदी, कब्जा नहीं मिला
दाऊद इब्राहिम की जब्त 12 प्रापर्टी में से कई संपत्तियों की नीलामी पहले भी हो चुकी है। दिल्ली के एक वकील अजय श्रीवास्तव और एक दूसरे व्यापारी ने हिम्मत दिखाते हुए संपत्ति खरीदा भीं, लेकिन बताया जाता है कि आज भी उन्हें उसका कब्जा नहीं मिल पाया है।

Comments 0

Comment Now


Videos Gallery

Poll of the day

शिवराज सरकार किसानों को बर्बाद क्यों कर रही है?

32 %
9 %
59 %
Total Hits : 77357