Sunday, 19th November 2017

अमित शाह ने मांगी पंजाब की रिपोर्ट

Sun, Nov 22, 2015 1:51 PM

, चंडीगढ़। अकाली दल के प्रधान और उप मुख्यमंत्री सुखबीर सिंह बादल द्वारा अचानक राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी से मुलाकात के बाद भाजपा के केंद्रीय नेतृत्व ने भी सक्रियता दिखाते हुए पंजाब के बीते एक माह के हालात की रिपोर्ट मांग ली है।
भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने एक राष्ट्रीय सचिव के जरिये रिपोर्ट मांगी है। खास बात यह है कि प्रदेश भाजपा के किसी सीनियर नेता की बजाय दूसरी कतार के एक नेता से शनिवार सुबह रिपोर्ट मांगी गई और उक्त नेता ने भी अखबारों की क्लीपिंग समेत पूरी रिपोर्ट भेज दी।
भाजपा नेतृत्व ने पिछले एक माह में हुई श्री गुरु ग्रंथ साहिब की बेअदबी की घटनाओं, फरीदकोट जिले के बहिबल कलां गोलीकांड, सूबे के हालात, दस नवंबर को हुए सरबत खालसा आदि की रिपोर्ट मंगवाई है। इसके साथ ही सरबत खालसा में शामिल संगठनों व प्रमुख नेताओं का ब्यौरा भी मांगा गया है।
राहुल गांधी का पंजाब दौरा और उनके द्वारा दिए गए बयानों का रिकार्ड भी मंगवाया गया है। अमित शाह ने पंजाब की समूची भाजपा लीडरशिप द्वारा पिछले एक महीने के दौरान अपनाई गई कार्यशैली की रिपोर्ट भी मांगी है। सूबे के दर्जन भर वरिष्ठ नेताओं द्वारा इस दौरान अपनाए गए रुख की भी रिपोर्ट में भेजी गई है।
जिस राष्ट्रीय सचिव ने यह रिपोर्ट भेजी है, उसका पंजाब से सीधा कोई संबंध या संपर्क नहीं है। वह अमित शाह के सबसे करीबी युवा नेताओं में है। प्रदेश भाजपा के वरिष्ठ नेताओं को किनारे कर इस तरह से रिपोर्ट मंगाने से साफ है कि केंद्रीय नेतृत्व को पंजाब के बारे में सही जानकारी नहीं दी गई थी।
दरअसल, भाजपा नेतृत्व पिछले महीने बिहार चुनाव में व्यस्त रहा है और उसे पंजाब के बारे में खास खबर नहीं मिल रही थी। अब बिहार से फुरसत मिलते ही उसने पंजाब को लेकर सक्रियता बढ़ा दी है जहां करीब 14 महीने बाद चुनाव होने हैं।

Comments 0

Comment Now


Videos Gallery

Poll of the day

शिवराज सरकार किसानों को बर्बाद क्यों कर रही है?

32 %
9 %
59 %
Total Hits : 77357