Monday, 25th September 2017

कर्ज के लिए बीवी को रखा गिरवी

Tue, Nov 17, 2015 6:05 PM

चंडीगढ़। एक शख्स ने पहले तो अपने दोस्त से लिए गए 30,000 रुपये के कर्ज के एवज में अपनी पत्नी को उसके पास गिरवी रख दिया और बाद में जब दोस्त ने बीवी को लौटाने से इन्कार कर दिया तो गुस्से में आकर उसने दोस्त को मौत के घाट उतार दिया।
इस अजीबोगरीब मामले का खुलासा सोमवार को तब हुआ जब हत्या की एक अनसुलझी गुत्थी को सुलझाने में यमुनानगर पुलिस को सफलता हाथ लगी। पुलिस बीते दो सप्ताह से 30 वर्षीय मोहम्मद गोलम के मर्डर के मामले को सुलझाने में जुटी हुई थी। यमुनानगर में रहने वाला गोलम मूलतः बिहार का निवासी है। वह यहां बीते ढाई साल से रह रहा था।
इस साल जनवरी में उसने अपने दोस्त साबिर अली को 30,000 रुपये कर्ज के तौर पर दिए थे। साबिर भी बिहार का रहने वाला था और टिफिन सेंटर चलाता था। साथ ही साथ वह यमुनानगर व जगधारी में ठेकेदारों के लिए मजदूरों का इंतजाम किया करता था। वहीं गोलम रुई धुनने व रजाई बनाने का काम करता था। गोलम के लिए साबिर की बीवी सलमा खाना बनाया करती थी।
पुलिस के अनुसार, साल के शुरुआत में साबिर ने अपनी सलमा को गोलम के पास कर्ज के एवज में गिरवी रख दिया था। गोलम इसके बाद सलमा को जगधारी के अर्जुन नगर स्थित अपने घर ले गया। इतना ही नहीं, वह सलमा को लेकर मार्च में बिहार स्थित अपने गांव भी गया था। इसके अलावा वह सलमा के साथ हिमाचल प्रदेश के कई जगहों पर घूमने के लिए भी गया था।
सितंबर में रजाई बनाने का काम शुरू होने पर गोलम सलमा के साथ यमुनानगर लौट आया। दोनों एक साथ रह रहे थे लेकिन अचानक 31 अक्टूबर को गोलम अपने घर में मरा पाया गया। इसके बाद पुलिस ने मामले की तहकीकात शुरू की। जिसके बाद खुलासा हुआ कि गोलम की हत्या साबिर अली ने ही की थी। उसने पुलिस के सामने कबूल किया कि उसने गोलम के पास अपनी बीवी को कर्ज के बदले गिरवी रखा था और जब उसने बीवी को लौटाने से मना किया तो गुस्से में आकर उसने उसे मार डाला।
मामले की जांच में शामिल डीसीपी राजेंद्र कुमार के अनुसार, साबिर ने कबूल किया कि उसके और गोलम के बीच विवाद तब शुरू हुआ जब 3 महीने पहले साबिर 30,000 रुपये लेकर गोलम के पास अपनी गिरवी रखी पत्नी को छुड़वा लाने के लिए गया। गोलम ने उस समय साबिर से सूद के तौर पर और 20,000 रुपये मांगे। साबिर का कहना है कि उसने 31 अक्टूबर को सूद के पैसे भी गोलम को लौटा दिए, लेकिन गोलम सलमा को छोड़ने और जाने देने के लिए राजी नहीं हो रहा था। गोलम के इन्कार करने के बाद साबिर ने अपनी पत्नी सलमा के साथ मिलकर गोलम को मारने की साजिश रची।
डीसीपी ने बताया कि पुलिस ने मामले में मिली सभी जानकारियों की पुष्टि कर ली है। जबतक साबिर पर गोलम का कर्ज था, तब तक साबिर ने पुलिस के पास कोई शिकायत दर्ज नहीं कराई थी। वह खुद भी काम के सिलसिले में कई शहरों में घूम रहा था। उसके 3 बच्चे भी हैं। तीनों की उम्र 4 साल से 7 साल के बीच है। जब सलमा गोलम के पास थी तो साबिर शहर के बाहर जाते समय अपने बच्चों को भी साथ ले जाता था।

Comments 0

Comment Now


Videos Gallery

Poll of the day

शिवराज सरकार किसानों को बर्बाद क्यों कर रही है?

29 %
10 %
60 %
Total Hits : 75859