Monday, 25th September 2017

पेरिस हमला: पूर्व प्रेमी को आखिरी बार ILU कहने वाली महिला की कहानी

Mon, Nov 16, 2015 4:38 PM

पेरिस। पेरिस हमले में जिंदा बची 49 वर्षीय हेलन विल्सन की मार्मिक दास्तां सामने आई है। मूल रूप से अमेरिकी हेलन बिजनेस के सिलसिले में पेरिस में रह रही थीं। आतंकी हमले वाले दिन वे अपने पूर्व प्रेमी से मिलने बैटाकलां कन्सर्ट हॉल आई थी। प्रेमी मारा गया, लेकिन हेलन उसकी अंतिम सांस से पहले आई लव यू कहने में कामयाब रहीं। हेलन का इलाज जारी है। पेश है हेलन की कहानी उन्हीं की जुबानी -
मैं मूल से रूप से लास एंजिलिस की रहने वाली हूं, लेकिन कुछ समय से कैटरिंग के बिजनेस के सिलसिले में पेरिस में हूं। कई साल पहले मैंने ब्रिटिश दोस्त निक एलेक्जेंडर (36 वर्ष) के साथ डेटिंग की थी। बीते हफ्ते निक पेरिस में था और उसने मुझ तक संदेश भिजवाया तो हमने बैटाकलां कन्सर्ट हॉल में मिलना तय किया। शुक्रवार रात करीब पौने नो बजे हम वहां बातें कर रहे थे, तभी फायरिंग शुरू हो गई। निक और मैं लाशों के बीच मुर्दा बनकर पड़े रहने का नाटक करने लगे। तभी पास में लेटे शख्स ने हरकत की और बंदूकधारी ने हमारी तरफ की गोलियां दाग दीं। मेरे दोनों पैरों में गोलियां लगीं। निक बुरी तरह जख्मी हो गया। उसका बहुत सारा खून बह चुका था। मैंने उसका हाथ पकड़ रखा था। उसके आखिरी सांस लेने से पहले मुझे कहने का मौका मिला कि वो ही मेरी जिंदगी में बहुत खास था और मैं अब भी उससे प्यार करती थीं। मैं उसी स्थिति में पड़ी रही। पुलिस के आने पर हमें अस्पताल ले जाया गया। अस्पताल में डॉक्टरों ने निक को मृत घोषित कर दिया।
 

Comments 0

Comment Now


Videos Gallery

Poll of the day

शिवराज सरकार किसानों को बर्बाद क्यों कर रही है?

29 %
10 %
60 %
Total Hits : 75859