Wednesday, 21st February 2018

श्रीनगर में CRPF कैंप पर हमला: फोर्स-आतंकियों के बीच 29 घंटे से फायरिंग; जम्मू में सर्च ऑपरेशन

Tue, Feb 13, 2018 9:48 AM

श्रीनगर. यहां सिक्युरिटी फोर्स और आतंकियों के बीच बीते 29 घंटे से एनकाउंटर जारी है। जम्मू के रायपुर में फोर्स सर्च ऑपरेशन चला रही है। सोमवार तड़के आतंकियों ने सीआरपीएफ कैंप में घुसने की कोशिश की थी, जिसे सुरक्षा बलों ने नाकाम कर दिया था। गोलीबारी में एक जवान शहीद हो गया। आतंकी एक बिल्डिंग में छिपे हुए हैं। कश्मीर में 3 दिन में दो आतंकी हमले हुए। दोनों की जिम्मेदारी लश्कर-ए-तैयबा ने ली है। इस बीच रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण ने कहा कि सुंजवान आर्मी कैंप पर हमले का मास्टर माइंड पाक बेस्ड जैश-ए-मोहम्मद का चीफ अजहर मसूद है, जिसे वहां पर सपोर्ट मिलता है।

 


CRPF हमला, 5 प्वाइंट्स


CRPF कैंप पर हमला, एक जवान शहीद
- श्रीनगर के सीआरपीएफ कैंप पर सोमवार को आतंकियों ने हमला किया। फोर्स ने इसे नाकाम कर दिया। ये आतंकी AK-47 राइफल समेत कई हथियार लिए हुए थे। 
- सीआरपीएफ के स्पोक्सपर्सन ने बताया, "कैंप के संतरी ने सोमवार तड़के 4.30 बजे दो संदिग्धों को बैग और हथियारों के साथ देखा। संतरी चिल्लाया और फायरिंग की।"
- "आतंकी फौरन उस जगह से भागे और पास की एक अंडरकंस्ट्रक्शन बिल्डिंग में पनाह ली। सीआरपीएफ ने बिल्डिंग को घेरा हुआ है।"
- सीआरपीएफ के आईजी रविदीप सहाय ने बताया कि जहां आतंकी छिपे हैं, वहां से 5 परिवारों को बाहर निकाल लिया गया है। ऑपरेशन जारी है। आतंकियों की फायरिंग को देखते हुए और जवान भेजे गए हैं ताकि आतंकी भागने न पाए।

CRPF कैंप के पास से ही फरार हुआ था आतंकी नवीद भट्ट

- श्री महाराजा हरि सिंह हॉस्पिटल के पास ही CRPF कैंप स्थित है। इस हॉस्पिटल पर 6 फरवरी को आतंकियों ने हमला कर पाकिस्तान के आतंकी नवीद भट्ट को पुलिस कस्टडी से छुड़ाया था। 
- पुलिस रुटीन चेकअप के लिए लश्कर के आतंकी नवीद को हॉस्पिटल ले आई थी। जहां पार्किंग में छिपे साथियों ने पुलिस पर हमला कर उसे भगा ले गए थे।

घुसपैठ रोकने में कामयाबी मिली है
- रक्षा मंत्री ने कहा, "पाकिस्तान पीरपंजाल के दक्षिण में टेररिज्म को स्पॉन्सर कर रहा है और घुसपैठ के लिए सीजफायर वॉयलेशन कर रहा है। इन कोशिसों का माकूल जवाब दिया गया। लाइन ऑफ कंट्रोल पर घुसपैठ रोकने के लिए हमारे सिस्टम के जरिए बड़ी कामयाबी मिली है। सिक्युरिटी फोर्सेस की लगातार कोशिशों के चलते आतंकी गतिविधियों पर रोक लगी है। मौसम और बर्फबारी के चलते घुसपैठ को पूरी तरह नहीं रोका जा सकता है, इसके लिए सरकार मॉडर्न तकनीक का इस्तेमाल कर रही है। एडिशनल सेंसर्स, यूएवी और लॉन्ग रेंज सर्विलांस डिवाइसेस को लाइन ऑफ कंट्रोल को कवर करने के लिए लगाया गया है।'

जंग विकल्प नहीं- महबूबा मुफ्ती
- महबूबा मुफ्ती ने सोमवार को जम्मू-कश्मीर विधानसभा में कहा- "राज्य में खूनी-खेल को रोकने के लिए पाकिस्तान से बातचीत की जरूरत है। इस बात के लिए मुझे आज रात टीवी चैनल के एंकर्स एंटी-नेशनल कहेंगे, लेकिन यह बात मायने नहीं रखती है। जम्मू-कश्मीर के लोग इससे प्रभावित हो रहे हैं। हमें बातचीत करनी होगा, क्योंकि जंग कोई विकल्प नहीं है।"
-"इस बात पर हैरानी नहीं होगी, जब कुछ मीडिया हाउस अटलजी को भी कटघरे में खड़ा कर देते यदि वे आज के वक्त में बातचीत के लिए लाहौर बस ले जाते।"

फारूक ने पाक को दी वॉर्निंग
- कश्मीर में सीआरपीएफ कैम्प हमले के बाद पूर्व मुख्यमंत्री फारूक अब्दुल्ला ने पाकिस्तान को वॉर्निंग दी। उन्होंने कहा- "जितना आतंकवाद बढ़ेगा उतनी मुसीबतें आएंगी, उनके मुल्क (पाकिस्तान) में ज्यादा मुसीबत आएंगी, वहां कुछ भी नहीं बचेगा। लगातार बढ़ती हुए आतंकी हमले के बाद सरकार को भी अगले कदम के बारे में सोचने की जरूरत है।" 
- इससे पहले फारूक के बेटे और पूर्व सीएम उमर अब्दुल्ला ने कहा था कि सुंजवान हमले में शहीदों की कुर्बानी बेकार नहीं जाएगी।

Comments 0

Comment Now


Videos Gallery

Poll of the day

शिवराज सरकार किसानों को बर्बाद क्यों कर रही है?

39 %
10 %
52 %
Total Hits : 81655