Wednesday, 21st February 2018

जम्मू के सुंजवां आर्मी कैम्प पर आतंकी हमला: सेना के 2 अफसर शहीद, 1 जख्मी; एयरफोर्स के कमांडो बुलाए गए

Sat, Feb 10, 2018 11:59 AM

जम्मू. यहां के सुंजवां आर्मी कैम्प में दाखिल हुए आतंकियों को घेर लिया गया है। उधमपुर और सरसावा से एयरफोर्स के पैरा कमांडो को बुलाया गया है, जो मौके पर पहुंच गए हैं। बता दें कि इस कैम्प पर शनिवार तड़के हमला किया गया, जिसमें 2 जूनियर कमीशंड ऑफिसर शहीद हुए है, जबकि एक जवान समेत 2 लोग जख्मी हुए हैं। कैम्प के अंदर रुक-रुककर फायरिंग की आवाज आ रही है। पूरे शहर में रेड अलर्ट जारी कर दिया गया है। कैंप के 500 मीटर के दायरे में स्थित स्कूल बंद कर दिए गए हैं।

 

कब और कहां हुआ ये हमला?

- शनिवार सुबह करीब 5 बजे कुछ आतंकियों ने जम्मू के सुंजवां में सेना के कैंप पर हमला किया। यह कैम्प जम्मू-पठानकोट हाईवे पर है। इसके चारों तरफ जंगल हैं।

 

कितने आतंकी हो सकते हैं?

- जम्मू-कश्मीर के डीजीपी एसपी वैद ने बताया कि कैम्प में 3 आतंकियों के होने का अनुमान है। आतंकी सेना के एक क्वार्टर में घुसे हुए हैं। इन्हें घेर लिया गया है।

 

कितना नुकसान हुआ?

- मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, एक जवान शहीद हो गया। तीन लोग जख्मी हुए हैं। इनमें एक जूनियर कमीशंड ऑफिसर, उनकी बेटी और एक अन्य जवान शामिल है।

 

कैम्प के अंदर कैसे घुसे?

- कैम्प के पिछले दरवाजे से दाखिल हुए आतंकी। जम्मू-कश्मीर के डीजीपी एसपी वैद ने बताया कि आतंकी पिछले दरवाजे से कैम्प में दाखिल हुए।

 

हमले को लेकर पहले से इंटेलिजेंस इनपुट्स था?

- न्यूज एजेंसी के मुताबिक, इंटेलिजेंस ने आर्मी या सिक्युरिटी एस्टेबलिशमेंट पर हमले की वॉर्निंग दी थी। एजेंसी ने कहा था कि अफजल गुरू की डेथ एनीवर्सरी के मद्देनजर जैश आतंकी बड़े हमले को अंजाम दे सकते हैं। बता दें कि 9 फरवरी 2013 को अफजल को फांसी दी गई थी।

 

किसने किया हमला?

- पुलिस के मुताबिक, यह हमला जैश-ए-माेहम्मद के आतंकियों ने किया है।

 

जवानों ने कैसे जवाबी कार्रवाई की?

- न्यूज एजेंसी ने जम्मू के आईजी एसडी सिंह जामवाल के हवाले से बताया कि शनिवार तड़के 4:55 बजे आतंकियों ने संतरी के बंकर पर फायरिंग की गई। इसके बाद जवानों की ओर से जवाबी फायरिंग की गई।

 

राजनाथ ने फोन कर हालात की जानकारी ली?

- इस हमले के बारे में केंद्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने जम्मू-कश्मीर के डीजीपी से बात की है। साथ ही गृह मंत्रालय के अफसरों को इस पर नजर रखने के निर्देश दिए हैं।

 

आर्मी ने क्या कदम उठाए हैं?

- आर्मी इन आतंकियों को पकड़ने के लिए हेलिकॉप्टर और ड्रोन से इलाके की निगरानी कर रही है। पूरे इलाके को घेर लिया है। 500 मीटर के दायरे में स्कूल को बंद रखने का निर्देश दिया गया।

मुख्यमंत्री महबूबा ने दुख जाहिर किया

- उधर, जम्मू-कश्मीर के मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती ने ट्वीट करके इसे हमले पर दुख जाहिर किया है। उन्होंने लिखा कि वे इस आतंकी हमले से परेशान हैं।

पिछले महीने हुआ था CRPF कैम्प पर हमला

- जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में 7 जनवरी को सीआरपीएफ कैंप पर आतंकी हमला हुआ था, जिसमें 3 कैप्टन समेत 5 शहीद हो गए थे।

- जवाबी कार्रवाई में तीन आतंकी मारे गए थे। जैश-ए-मोहम्मद ने इस हमले की जिम्मेदारी ली थी।

- CRPF के स्पोक्सपर्सन राजेंद्र यादव ने बताया था कि ऐसा पहली बार हुआ है, जब लोकल टेररिस्ट्स ने सुसाइड अटैक को अंजाम दिया है।

2017 में 206 आतंकी मारे गए

- 2017 में सिक्युरिटी फोर्सेस ने जम्मू और कश्मीर में 206 आतंकवादियों को ढेर किया। J&K के पुलिस चीफ एसपी वैद ने कहा, "मैं ये साफ कर देना चाहता हूं कि हमारे ऑपरेशन केवल टेररिस्ट को मार गिराने के लिए ही नहीं, बल्कि उन्हें मुख्यधारा में शामिल करने के लिए भी था। हमने 75 युवाओं को मुख्यधारा में शामिल कराया है।"

Comments 0

Comment Now


Videos Gallery

Poll of the day

शिवराज सरकार किसानों को बर्बाद क्यों कर रही है?

39 %
10 %
52 %
Total Hits : 81655