Friday, 22nd September 2017

पंजाब में फूड प्रोसेसिंग इंडस्ट्री टैक्स फ्री

Thu, Oct 29, 2015 5:52 PM

मोहाली। प्रोग्रेसिव पंजाब समिट के पहले दिन उप मुख्यमंत्री सुखबीर सिंह बादल ने प्रदेश में लगने वाले फूड प्रोसेसिंग उद्योगों पर कोई भी इनपुट टैक्स न लगाने का ऐलान किया है। इसके अलावा उन्होंने राज्य में लगने वाले सभी तरह के उद्योगों को 4.99 रुपये प्रति यूनिट बिजली देने की घोषणा भी की है।
सुखबीर ने कहा कि पंजाब अनाज उत्पादक के रूप में जाना जाता था मगर उनकी इच्छा है कि पंजाब अपनी पैदावार में कुछ वैल्यू एड करे। उन्होंने पंजाब को फूड प्रोसेसिंग इंडस्ट्री का प्रमुख केंद्र बनाने के इरादे से फूड प्रोसेसिंग इंडस्ट्री पर लगने वाले सभी इनपुट टैक्स को माफ करने का फैसला किया है। इसमें वैट, सीएसटी और परचेज टैक्स शामिल हैं।
उप मुख्यमंत्री ने बताया कि लुधियाना में एक इंटीग्रेटिड फूड पार्क, फगवाड़ा में ग्रीन टेक वैली और मोहाली में इंटरनेशनल एयरपोर्ट के पास एमआरओ (रखरखाव, मरम्मत और ओवरहाल) सुविधा जैसे प्रोजेक्ट लगाने के लिए पंजाब पूरी तरह से तैयार है।
राज्य सरकार ने विभिन्न कंपनियों के साथ करार किया है जिसके तहत डेढ़ लाख युवाओं को विभिन्न व्यवसायों में प्रशिक्षित करने के लिए 2,000 स्किल डेवलपमेंट केंद्रों की स्थापना की जा रही है। पंजाब देश का पहला राज्य होगा जो जनवरी तक 4जी कनेक्टिविटी से जुड़ जाएगा। उन्होंने इस कार्य के लिए रिलायंस के चेयरमैन मुकेश अंबानी का धन्यवाद भी किया।
उन्होंने कहा कि पिछले निवेशक सम्मेलन में जो करार हुए थे उसमें से 60 पर काम शुरू हो गया है। 2013 में 63,000 करोड़ रुपये के एमओयू साइन हुए थे जिसमें से 41,187 करोड़ रुपये का निवेश प्राप्त किया गया है।
उपमुख्यमंत्री ने बताया कि पंजाब में दो अंतरराष्ट्रीय व तीन घरेलू हवाई अड्डे हैं। अब पंजाब इन्वेस्टमेंट ब्यूरो स्थापित कर उसे 23 विभागों के अधिकार सौंपे गए हैं। पंजाब अन्य राज्यों से कहीं आगे है।

Comments 0

Comment Now


Videos Gallery

Poll of the day

शिवराज सरकार किसानों को बर्बाद क्यों कर रही है?

29 %
10 %
60 %
Total Hits : 75828