Wednesday, 22nd November 2017

शिवराज कायम , अमेरिका की सड़के सबसे खराब

Sun, Oct 29, 2017 8:24 PM

भोपाल,  । मध्‍यप्रदेश के मुख्‍यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि वाशिंगटन डीसी की 92 सडकें कमजोर हालत में है, ये बात अध्‍ययन से सिद्व हुई है। जबकि हमारे तो कई सडकें उनसे अच्‍छी है, मैं ि‍फर जोर देकर कहता हूं इंदौर-भोपाल जैसे हाइवे बहुत अच्‍छे हैं। वे रविवार शाम को स्‍टेट हैंगर पर अमेरिकी प्रवास से लौटने पर मीडिया से चर्चा कर रहे थे। उन्‍होंने कहा कि लेकिन मेरे कांग्रेसी मित्रों ने न जाने कहां से गली कूचों की तस्‍वीरें निकाल कर सोशल मीडिया पर डाल दी और अमेरिकी प्रेसीडेंट तक से मेरी शिकायत कर दी। मुख्‍यमंत्री ने कहा कि मप्र में पिछले सालों में डेढ लाख किमी सडकें बनी हैं, हम हर गांव को सडकों से जोड रहे हैं। उन्‍होंने कहा कि भारत अमेरिका के संबंध अच्‍छे हैं, दोनों कई मामलों में साथ साथ आगे बढ रहे हैं, कई मामले में अमेरिका आगे है, महिला सशक्तिकरण के मामले में हम आगे हैं, उनके यहां महिला प्रेसीडेंट बनते बनते रह गई, हमारे यहां प्रेसीडेंट और प्रधानमंत्री दोनों महिला बन चुकी है। मैं वहां पर मप्र की ब्रांडिंग करने गया था, अगर अच्‍छे काम किए हैं तो बताने में क्‍या हर्ज है, अच्‍छे कामों को प्रस्‍तुत करना ही चाहिए। 
उन्‍होंने बताया कि पंडित दीनदयाल उपाध्‍याय की 100 वीं जन्‍म शताब्‍दी के अवसर आयोजित सम्‍मेलन में मुख्‍य वक्‍ता के उन्‍हें आमंत्रित किया गया था। 23 अक्‍टूबर को विश्‍व प्रसिद्व रसेल सेनेट भवन में आयोजित कार्यक्रम में विषय था पंडित दीनदयाल उपाध्‍याय के एकात्‍म मानववाद एवं आज के संदर्भ में उनकी प्रासंगिकता। मुख्‍यमंत्री ने बताया कि 26 अक्‍टूबर को भारतीय कोंसलावास में आयोजित फ्रेंडस आफ मध्‍यप्रदेश के सदस्‍यों में सम्‍मेलन में न केवल मप्र बल्कि गुजरात, मध्‍यप्रदेश, तमिलनाडु एवं भारत के अन्‍य राज्‍यों के अमेरिका में बसे हमारे मित्रों ने भाग लिया। चर्चा के दौरान आए सुझावों में यह विचार किया गया कि 3 और 4 जनवरी 2018 को इंदौर में एक फ्रेंडस ऑफ एमपी कॉन्‍क्‍लेव का आयोजन किया जाए, जिसमें अमेरिका के सभी प्रमुख शहरों जैसे न्‍यूयॉर्क, न्‍यूजर्सी, हयूस्‍टन, बोस्‍टन एवं कैलीफोर्निया व दुनिया के अन्‍य शहरों जैसे लंदन, दुबई, सिंगापुर आदि में बसे व हमारे इस प्‍लेटफार्म से जुडे सभी मित्रों को परिवार सहित बुलाया जाए। मुख्‍यमंत्री ने कहा कि कुल मिलाकर मेरी यह यात्रा अत्‍यंत सफल रही और प्रदेश के विकास की गति में ईधन का काम करेगी। 
मुख्‍यमंत्री ने बताया कि कोलंबिया विवि के डॉक्‍टरों के साथ थैलेसेमिया के इंदौर मेडिकल कॉलेज में उपचार के लिए पिछले साल किए एमओयू का रिव्‍यू किया गया। इसके तहत दो डॉक्‍टरों की ट्रेनिंग् शुरु हो चुकी है। थैलेसेमिया के इलाज के लिए अस्‍पताल का निर्माण भी समय से पूरा हो जाएगा और अप्रैल 2018 में इंदौर में बौनमेरो ट्रांसप्‍लांट की प्रथम सर्जरी की जाएगी। अभी यह सर्जरी 15-16 लाख रुपए में होती है, लेकिन हमारे प्रयास से यह मात्र 5 लाख रुपए में हो सकेगी। चौहान ने कहा कि प्रदेश में किसानों की आय दोगुनी करने का मिशन है, इसी संदर्भ खेती के नए तरीके के बारे में जानने के लिए मैने वहां पर एक आधुनिक आर्गेनिक खेत का दौरा किया और वहां पर कार्यरत विशेषज्ञ से उनके खेती के तरीके जाने। किसानों की पैदावार बढाना, धान के अलावा अन्‍य फसलें उगाना, मधुमख्‍खी पालन एवं किसानों को उनके उत्‍पादों का उचित दाम कैसे मिलता है, वैसे विषयों पर मैंने अध्‍ययन किया। मुझे यह कहते हुए गर्व है कि हमारे किसान भी कई सारी आधुनिक तकनीक का उपयोग करते है, जो वहां पर मैंने देखी। हमने वहां पर मॉडल फार्म भी देखे, ऐसे कई मॉडल फार्म हमने मप्र में भी बनाए हैं। इसके अलावा मुख्‍यमंत्री ने अपनी अमेरिकी यात्रा के दौरान विभिन्‍न बिजनेस लीडरों से हुई मुलाकात के बारे में भी चर्चा की। उन्‍होंने कहा कि पदम पुरस्‍कार से सम्‍मानित व भारत में नई शिक्षा नीति पर काम कर रहे प्रसिद्व गणितज्ञ मंजूल भार्गव मुझ से मिलने आए, उन्‍होंने हिन्‍दी में विज्ञान की किताबें लिखने वालों को प्रोत्‍साहित करने का आग्रह किया और सुझाव दिया कि हिन्‍दी में दूसरी भाषा के सामानांतर नए शब्‍दों को विकसित किया जाए। दूरस्‍थ क्षेत्र में शिक्षा के स्‍तर को सुधार ने हेतु ग्रामीण छात्रों को वीडियो रिकॉर्डिग के माध्‍यम से पढाने का सुझाव दिया। 

Comments 0

Comment Now


Videos Gallery

Poll of the day

शिवराज सरकार किसानों को बर्बाद क्यों कर रही है?

34 %
9 %
57 %
Total Hits : 77567