Wednesday, 22nd November 2017

गेंहू का न्‍यूनतम समर्थन मूल्‍य 110 रुपये बढ़ा

Tue, Oct 24, 2017 7:26 PM

सरकार ने गेंहू का न्‍यूनतम समर्थन मूल्‍य 110 रुपये बढ़ा दिया है और इस साल यह एक हजार सात सौ 35 रुपये प्रति क्विंटल होगा। पिछले वर्ष यह एक हजार छह सौ पच्‍चीस रुपये प्रति क्विंटल था। दलहन की पैदावार को बढ़ावा देने के लिए इसके न्‍यूनतम समर्थन मूल्‍य में दो सौ रुपये प्रति क्विंटल की बढ़ोतरी की गई। सरकारी सूत्रों के हवाले से समाचार एजेंसी पीटीआई ने खबर दी है कि प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी की अध्‍यक्षता में हुई मंत्रिमंडल की आर्थिक मामलों की समिति ने वर्ष 2017-18 के रबी मौसम की सभी फसलों के न्‍यूनतम समर्थन मूल्‍य को मंजूरी दी है।चना और मसूर की खेती को बढ़ावा देने के उद्देश्य से इनके न्‍यूनतम समर्थन मूल्‍य भी 200 रुपये प्रति क्विंटल बढ़ाये गए हैं। अब चने का नया समर्थन मूल्‍य चार हजार दो सौ और मसूर का 4 हजार 150 रुपये प्रति क्विंटल होगा। तिलहन में रेपसीड, सरसों और सूरजमुखी के बीजों के न्‍यूनतम समर्थन मूल्‍य में उल्लेखनीय वृद्धि की गई है।सरकार ने अगस्‍त और सितम्‍बर महीनों के लिए वस्‍तु और सेवा कर जीएसटी के प्रारंभिक रिर्टन दाखिल करने में देरी के लिए लगने वाले जुर्माने को माफ कर दिया है। वित्‍तमंत्री अरूण जेटली ने आज कहा कि करदाताओं को सुविधा देते हुए अगस्‍त और सितम्‍बर महीनों के लिए जीएसटी आर तीन बी को देर से फाइल करने पर लगने वाली लेट फीस को माफ किया गया है। उन्‍होंने कहा कि जिन व्‍यापारियों से लेट फीस वसूल की जा चुकी है, उसे करदाताओं के खातों में वापस जमा करा दिया जाएगा।इससे पहले सरकार ने जीएसटी के तहत जुलाई में रिटर्न दाखिल करने की लेट फीस को माफ किया था। जीएसटी आर तीन बी का रिर्टन हर महीने की बीस तारीख को दाखिल किया जाता है।

Comments 0

Comment Now


Videos Gallery

Poll of the day

शिवराज सरकार किसानों को बर्बाद क्यों कर रही है?

34 %
9 %
57 %
Total Hits : 77567