Sunday, 19th November 2017

मुख्य न्यायाधीश समेत 7 जजों को 5 साल की सजा! सुपर्ब जस्टिस कर्णन!

Mon, May 8, 2017 8:25 PM

कलकत्ता  हाई कोर्ट के जस्टिस कर्णन ने ऐतिहासिक फैसला सुनाते हुए भारत के मुख्य न्यायाधीश  जे एस खेहर समेत सुप्रीम कोर्ट के 6 अन्य  जजों को पांच साल के कठोर कारावास की सजा सुना दी है। न्यायमूर्ति कर्णन ने इन सभी को अनुसूचित जाति एवं अनुसूचित जनजाति (अत्याचार निरोधक) अधिनियम के तहत दोषी पाया और 5 साल के सश्रम कारावास की सजा सुना दी है। दोषी न्यायाधीशों में जस्टिस जे चेल्मेश्वर, जस्टिस दीपक मिश्र, जस्टिस कूरियन जोसेफ, जस्टिस पिनाकी सी घोष,जस्टिस रंजन गोगोई, और जस्टिस मदन बी लोकुर शामिल हैं।

2 मई को जस्टिस कर्णन ने संविधान के अनुच्छेद  226 का प्रयोग करते हुए स्वत: संज्ञान लेते हुए आदेश जारी किया था। मुख्य न्यायाधीश जे एस खेहर  और 6 अन्य जजों को उन्होंने सम्मन किया था लेकिन इनमें से कोई भी जज, जस्टिस कर्णन के सामने पेश नहीं हुआ था। इस पर जस्टिस कर्णन ने सातों के खिलाफ गैर-जमानती वारंट जारी करते हुए 8 मई को फिर पेश होने का आदेश जारी किया था।

सोमवार को भी जब सुप्रीम कोर्ट के ये जज पेश नहीं हुए तो जस्टिस कर्णन ने इसे अपनी अदालत की अवमानना मानते हुए सभी 7 जजों को 5 साल की सजा सुना दी।

जस्टिस कर्णन ने न्यू टाउन में रोजडेल टॉवर स्थित अपने आवास पर अस्थायी कोर्ट से आदेश जारी किया। उन्होंने कहा कि इस मामले में कोर्ट का फैसला जरूरी नहीं है। जस्टिस कर्णन ने एससी-एसटी कानून की उपधाराओं (1) (एम), (1) (आर) और (1) (यू) के तहत एक-एक लाख रुपये का जुर्माना लगाया। उन्होंने निर्देश दिया कि यदि जुर्माना अदा नहीं किया गया तो सभी को छह महीने की कैद और काटनी होगी।

इसके पहले सुप्रीम कोर्ट द्वारा अवमानना की कार्यवाही का सामना कर रहे कलकत्ता उच्च न्यायालय के जज सीएस कर्णन ने एयर कंट्रोल अथॉरिटी, नई दिल्ली को आदेश दिया था कि वे भारत के मुख्य न्यायाधीश जगदीश सिंह खेहर सहित सुप्रीम कोर्ट के 7 अन्य न्यायाधीशों को उनके खिलाफ मामलों का निपटारा होने तक विदेश यात्रा पर जाने से रोक दें।

इससे पहले मुख्य न्यायाधीश खेहर और सुप्रीम कोर्ट के 6 अन्य जजों ने जस्टिस कर्णन के खिलाफ अवमानना की कार्यवाही शुरू करते हुए उन्हें 31 मार्च या उससे पहले पेश होने का आदेश दिया था। 7 जजों की संवैधानिक बेंच ने जस्टिस कर्णन के खिलाफ जमानती वारंट भी जारी किया था। जस्टिस कर्णन 31 मार्च को अपने खिलाफ दायर अवमानना के मामले में सुप्रीम कोर्ट में पेश हुए और शर्त रखी थी कि अगर उनके न्यायिक अधिकार लौटाए जाते हैं तो वह फिर से पेश होने और माफी मांगने को तैयार हैं।

जस्टिस कर्णन पर न्‍यायपालिका का अपमान करने और सुप्रीम कोर्ट जजों के खिलाफ भ्रष्‍टाचार के आरोप लगाने को लेकर अदालत के अपमान का आरोप है। सुप्रीम कोर्ट की बेंच ने उनकी न्यायिक   कर्तव्यों को जारी रखने की याचिका यह कहते हुए ठुकरा दी थी कि हाई कोर्ट जज दिमागी रूप से ठीक नहीं हैं। शीर्ष अदालत ने जस्टिस कर्णन की मानसिक स्थिति की जाँच कराने का भी आदेश दिया था, लेकिन जस्टिस कर्णन ने मजबूत कानूनी तर्क देते हुए अपनी जांच कराने से इन्कार कर  दिया था। 

सुप्रीम कोर्ट के सात जजों की बेंच के आदेश पर तीन सदस्यों की एक मेडिकल टीम सुबह न्यू टाउन एरिया स्थित जस्टिस कर्णन के घर पहुंची थी लेकिन जस्टिस कर्णन ने टीम से कहा कि वह पूरी तरह से ठीक हैं और उन्हें मेंटल टेस्ट की आवश्यकता नहीं है। इससे पहले पहले जस्टिस कर्णन ने एक प्रेस कांफ्रेंस में मेडिकल जांच को गैरकानूनी बताया था। उन्होंने कहा था कि कानून के अनुसार इस तरह की जांच में गार्जियन का सिग्नेचर जरूरी है और यह प्रक्रिया नहीं पूरी नहीं की गई है। उन्होंने कहा था कि उनकी लड़ाई भ्रष्टाचार के खिलाफ है और वे इसे हर हाल में जारी रखेंगे।

 

Comments 35

Comment Now


Previous Comments

Well-done sir

vijendra

Very proud fill

Raju

VERY NICE judgment by JUDGES MR.KARNAN SIR PROUD OF YOU

ADV. R . Z . VAGHELA

VERY NICE judgment by JUDGES MR.KARNAN SIR PROUD OF YOU

ADV. R . Z . VAGHELA

grand salute sir

Rajesh kumar

बहोत बेहतर दुर्भाग्य यह है की कानून की व्याख्या करने वाले ही कानून का सम्मान नही किए जब एक अदालत ने वारंट कर दिया तो न्यायालय का सम्मान करने के लिए पेश होना था

देवेन्द्र यादव

Good sir kanun sab ke liye hai

Faiyaz siddiqui

Thank you very much This is called judgment What is ATROCITY THIS is fasttractw

Ghanshyam Shendge

सर बहुत अच्छा जजमेंट दिया आपने मै बहुत खुश हूं तथागत बुद्ध से आप की ओर आपके परिवार की लंबी उम्र की कामना करते हैं औऱ पूरे बद्धिस्ट समाज से भी आप के होंसले की सराहना करते है मेरा भी रोहिणी कोर्ट में केस 2004 का लटका रखा है sir जी

Kshetra pal singh

Saty mew Jayte

Prashant kadam

Complete case to be sent on sent on mail id

Akhilesh Kumar Bharti

मे भी करण क़े बातों से सहमत हू

अंजनी कुमार बैठा

Sir we the people of mul nivasi India with hearts and soul.

Chandra Kishor Das

I am with justice karnan. He is real hero who is fighting against corruption. Prime Minister modi should take action against 7 culprit judges who think that they are greater than law and constitution.

Prashant prabhakar Bankar

I am with justice karnan. He is real hero who is fighting against corruption. Prime Minister modi should take action against 7 culprit judges who think that they are greater than law and constitution.

Prashant prabhakar Bankar

Good judgment

S G Mohite

well done sir

surendra chanyal

Niice, but legally tenable order?

ajay

Central Govt must conduct inquiry of crupt judges & parliament take the action so that credit of can be saved.

Girdhari Lal Chauhan

Central Govt must conduct inquiry of crupt judges & parliament take the action so that credit of can be saved.

Girdhari Lal Chauhan

Central Govt must conduct inquiry of crupt judges & parliament take the action so that credit of can be saved.

Girdhari Lal Chauhan

Central Govt must conduct inquiry of crupt judges & parliament take the action so that credit of can be saved.

Girdhari Lal Chauhan

Central Govt must conduct inquiry of crupt judges & parliament take the action so that credit of can be saved.

Girdhari Lal Chauhan

We proud of you Mr.karnan sir jay Bhim jay bharat

Kishor parmar

Kadak Jay bhim sir I am proud of u...

shashikant Kamble

जस्टिस कर्णन सहाब ने संविधान की ताकद बता दि उनका आभार

दिपक गमरे

Oonche lebal par byapt bhrashtachar par roak lagni he chahiye phir nayaypalika he kyon na ho Evam whistle blower KO bhi protuction diya Jana chaheye ; judiciary Ka sach janta ke saamne aana he chaheye

Anil kumar

कल दिनांक 9/5/2017 को न्युज चैनलों ने दिखाया कि जस्टिस कर्णन को 6माह की सजा सुनाई गई है। सही बात क्या है?

Ramprasad

Great Karnan sir, for his self-control and fearless and bold stand with law and order, daring decision and great will power against corrupt and ill judiciary.....

Dinesh Bharti

Great Karnan sir, for his self-control and fearless and bold stand with law and order, daring decision and great will power against corrupt and ill judiciary.....

Dinesh Bharti

Yes,Justice Karnan is Right & I support him.

Vijay sidam

Mai Justice karnan se sahmat hu

Rajkumar Pal

Bhim ka rup hai jstij karnan Jai bhim Jai jastij karnan

AJAY KUMAR

जस्टिस कर्णन सहाब ने संविधान की ताकद बता दि उनका आभार

Namdeo Rattan Gedam

Videos Gallery

Poll of the day

शिवराज सरकार किसानों को बर्बाद क्यों कर रही है?

32 %
9 %
58 %
Total Hits : 77414